रूस यूक्रेन युद्ध : यूक्रेनी सीमा पर रूसी मालगाड़ी में जबरदस्त विस्फोट

russian-freight-train (2)

मास्को, एपी : यूक्रेन की सीमा से लगे एक क्षेत्र में एक विस्फोटक उपकरण ने मंगलवार को लगातार दूसरे दिन एक रूसी मालगाड़ी में जबरदस्त विस्फोट हुआ। रूसी क्षेत्र और क्रीमिया, जिसे 2014 में मास्को द्वारा अवैध रूप से कब्जा कर लिया था, हाल के दिनों में लगातार हमलों से प्रभावित हो गया है।

यूक्रेन ने नही ली हमले की जिम्मेदारी

पिछले चार दिनों में विस्फोटों से दो ट्रेनें पटरी से उतर गई हैं, एक संदिग्ध ड्रोन ने क्रीमिया के एक तेल डिपो से टक्करा गया जिससे सेंट पीटर्सबर्ग के पास एक बड़ी मात्रा आग लग गई और बिजली की लाइनें उड़ गईं। हमले ऐसे समय में किये गए हैं जब रूस 9 मई को जश्न मनाने की तैयारी कर रहा है, नाजियों पर सोवियत जीत को चिह्नित करने वाला अवकाश जो राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के शासन के समय में एक मुख्य कार्यक्रम बन गया है।

यूक्रेन ने रूस की ट्रेनों में हमले की जिम्मेदारी का दावा नहीं करने की अपनी सामान्य रेखा का पालन किया है, जो कि कीव ने कहा कि वह हफ्तों पहले घोषित आक्रमण की तैयारी को अंतिम रूप दे रहा था । रूस के पश्चिमी ब्रांस्क क्षेत्र के गवर्नर अलेक्जेंडर बोगोमाज ने मंगलवार को कहा कि ट्रेन विस्फोटक उपकरण के पटरी से उतर गई थी। उन्होंने कहा कि यह यूक्रेन और बेलारूस की सीमाओं के पास लगभग 370,000 लोगों के शहर ब्रांस्क के क्षेत्रीय केंद्र के बाहर स्नेजेत्स्काया स्टेशन पर चला गया। उन्होंने कहा, “ट्रेन का एक लोकोमोटिव इंजन और कई डिब्बे पटरी से उतर गए।” उन्होंने कहा कि कोई घायल नहीं हुआ।

20 डिब्बे पटरी से उतर गए और उस खंड में रेल यातायात बाधित

सोमवार को, विस्फोट से एक ट्रेन रेलवे लाइन से उतर गई थी लेकिन यूक्रेन की सीमा के करीब, उनेचा के पास आग लग गई थी । अपने वर्ष भर से अधिक समय तक आक्रामक रहने के दौरान, क्रेमलिन ने रूस को सुरक्षित के रूप में चित्रित करने की मांग किया है, जबकि उसके सैनिक यूक्रेनी सेना से जबरदस्त लड़ाइ लड़ रहे हैं।

क्रेमलिन के मिडिया प्रभारी दिमित्री पेसकोव ने कहा, “बेशक, हम जानते हैं कि कीव शासन, इस तरह के कई हमलों – आतंकवादी हमलों – के पीछे इसका हाथ है, कीव इस तरह के हमले जारी रखने की योजना बना रहा है।” “हमारी सभी खुफिया सेवाएं सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही हैं।”

रूसी रेलवे ने भी अपने बयान जारी कर कहा कि रेल परिवहन के कार्य में अनधिकृत लोगो के हस्तक्षेप के कारण ट्रेन पटरी से उतर गई थी। इसमें किसी विस्फोटक उपकरण का जिक्र नहीं था। राज्य संचालिका ने कहा कि यह घटना स्थानीय समयानुसार शाम 7:47 बजे स्नेजेत्सकाया और पास के बेली बेरेगा गाँव के बीच हुई। इसने कहा कि ट्रेन का अगला लोकोमोटिव इंजन और लगभग 20 डिब्बे पटरी से उतर गए और उस खंड में रेल यातायात को निलंबित हो गया।

20 क्षेत्रों में रेलवे तोड़फोड़ के आरोप में एक तिहाई 65 से अधिक लोगों को हिरासत

मॉस्को द्वारा यूक्रेन पर हमला शुरू करने के बाद से रूस में रेलवे में तोड़फोड़ की कई खबरें देखी गयी हैं, लेकिन इस हफ्ते पहली दफा अधिकारियों ने हमलों की पुष्टि किया है। अप्रैल के मध्य में प्रकाशित स्वतंत्र मीडिया मीडियाजोना की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अकेले देश के लगभग 20 क्षेत्रों में रेलवे तोड़फोड़ के आरोप में एक तिहाई नाबालिगों सहित 65 से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया गया है।

यूक्रेन का कहना है कि वह महीनों से जवाबी हमले करने की तैयारी कर रहा है जिसका उद्देश्य रूसी सेना को उस क्षेत्र से भगाना है जो वर्तमान में पूर्व और दक्षिण में है। इस बीच डेनमार्क की सरकार ने कहा है कि वह यूक्रेन को 1.7 बिलियन क्रोनर की सैन्य सहायता देगा।

डेनमार्क के रक्षा मंत्रालय ने एक प्रवक्ता ने कहा है कि पैकेज में माइन क्लियरिंग वाहन, गोला-बारूद और हवाई रक्षा की खरीद के लिए वित्तीय सहायता शामिल है। कार्यवाहक रक्षा मंत्री ट्रॉल्स लुंड पौलसेन के अनुसार , “उपकरण… यूक्रेनी टैंकों और अग्रिम पंक्ति पर मशीनीकृत पैदल सेना के लिए मार्ग प्रशस्त करने के लिए अति आवश्यक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

करोड़ों की मालकिन हैं कंगना रनौत बिना किस-इंटिमेट सीन 35 फिल्में कर चुकी हूं इंग्लिश तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने रिटायरमेंट का किया ऐलान ‘विराट के खिलाफ रणनीति बनाएंगे… : बाबर आज़म कंगना रनौत का बड़ा ऐलान, चुनाव जीती तो बॉलीवुड छोड़ दूंगी