पश्चिमी यूपी का कुख्यात अपराधी ‘अनिल दुजाना’ मुठभेड़ में ढेर

anil-dujana

ग्रेटर नोएडा,लखनऊ,रिपब्लिक समाचार,संवाददाता : बादलपुर के दुजाना गांव के कुख्यात अपराधी अनिल दुजाना मेरठ मे यूपी एसटीएफ के साथ मुठभेड़ में मार गिराया। कहा जा रहा है कि गैंगस्टर का यूपी एसटीएफ ने मुठभेड़ में एनकाउंटर कर दिया है। अनिल दुजाना ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना के गांव रहने वाला था । यूपी पुलिस और दिल्ली पुलिस लगातार इस कुख्यात अपराधी को ढूंढ़ रही थी।

अनिल दुजाना पर 62 मुकदमें है दर्ज

कहा जाता है कि, यूपी एसटीएफ को एक गुप्त सूचना मिली थी कि अनिल दुजाना मेरठ के एक गांव में वारदात करने के लिए आनेवाला है। इस खबर को एसटीएफ ने गंभीरता से लेते हुए घेराबंदी किया । एसटीएफ की टीम ने जब आत्मसमर्पण के लिए कहा तो खुद घिरा देख अनिल दुजाना ने गोलीबारी शुरू कर दिया । एसटीएफ की जवाबी कार्यवाही में अनिल दुजाना मुठभेड़ में मार दिया गया।

कुख्यात अपराधी अनिल दुजाना के खिलाफ ग्रेटर नोएडा, मुजफ्फरनगर ,गाजियाबाद,समेत उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हत्या, लूट, फिरौती ,डकैती और जबरिया धन उगाही जैसे संगीन प्रकरणो में एफआईआर दर्ज है। अनिल दुजाना को लोग हरियाणा ,दिल्ली ,एनसीआर गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर , आतंकी के नाम से जानते था ।

कुख्यात बदमाश अनिल दुजाना पर 18 हत्याएं समेत रंगदारी, लूटपाट, कब्जा छुड़वाना ,जमीन पर बलपूर्वक कब्जा करना , और आर्म्स एक्ट समेत 62 मुकदमें दर्ज हैं। अनिल दुजाना पर रासुका और गैंगस्टर एक्ट भी लग गया है। इसके अतिरिक्त गैंगस्टर सुंदर भाटी पर एके-47 से हमले का आरोप है। जानकारी के अनुसार , वह 2012 से जेल में था और जनवरी 2021 में बेल पर छूट गया था । इसके बाद दुबारा जेल जाने के बाद करीब एक हफ्ते पहले वह जेल से रिहा हुआ था।

अनिल दुजाना जेल से रिहा होते ही अपने खिलाफ में अपने खिलाफ गवाही दे रहे लोगों को धमकाना शरू कर दिया था ।वहीं, अनिल दुजाना पर बुलंदशहर पुलिस ने 25 हजार रूपये का इनामी धनराशि और नोएडा पुलिस ने 50 हजार का इनाम रखा था। इसके अलावा गैंगस्टर के खिलाफ दिल्ली में भी आर्म्स एक्ट का केस दर्ज था जिसकी वजह से दिल्ली पुलिस उसकी तलाश में जुटी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार