बरेली के कारागार में जिला प्रशासन का छापा

police-raid

बरेली,रिपब्लिक समाचार,संवाददाता : प्रयागराज ले जाने से पहले अतीक के भाई अशरफ पर बड़ी कार्रवाई, अफसरों ने बैरक में किया यह काम माफिया अतीक अहमद के भाई अशरफ के जेल में बंद होने के कारण से संवेदनशील बनी जिला जेल (केंद्रीय कारागार-2) में शनिवार रात वरिष्ठ अधिकारियों ने फिर से छापा मारा। सभी बैरकों की अपने सामने तलाशी कराने के साथ ही कर्मचारियों के अलावा जेल के अंदर आने वाले लोगों की गतिविधियों का बंदियों से वार्ता करके पता लगाया।

कारागार में चलाया सघन तलाशी अभियान

अशरफ के मददगारों पर कड़ी कार्रवाई के बाद भले ही जेल प्रशासन सबकुछ सामान्य दिखाने का प्रयास कर रहा है, लेकिन वास्तविकता इसके विपरीत है। जेल परिसर में पुलिस अफसरों की बढ़ती सक्रियता से इन दावों की पोल खोलने के लिए पर्याप्त है। शनिवार देर रात डीएम शिवाकांत द्विवेदी, एसएसपी प्रभाकर चौधरी, एसपी सिटी राहुल भाटी,बड़ी मात्रा में
जेल परिसर का मुआयना करने के साथ ही बैरकों में बंदियों की तलाशी ली गई।

अधिकारियों ने रसोईघर से लेकर अस्पताल तक का निरिक्षण किया गया । तन्हाई में बंद अशरफ की बैरककी तलाशी ली गयी । दूसरी बैरकों में बंद कैदियों से बातकर अधिकारियों ने अशरफ सहित जेल प्रशासन की गतिविधियों के बारे में जानकारी ली। इस दौरान सब कुछ सामान्य मिलने का दावा किया जा रहा है। दो दिन पहले भी अधिकारियों ने जिला जेल में छापा मारा था। माफिया अतीक अहमद के भाई अशरफ को बी वारंट पर प्रयागराज ले जाने के लिए प्रयागराज पुलिस तीन दिन से शहर में डेरा डाले हुए है, लेकिन उसे ग्रीन सिग्नल नहीं मिल रहा है।

अशरफ के वकीलों ने जताया था खतरा

ऐसे में वहां से आए पुलिसकर्मी भी परेशांन हो गए हैं। जेल के पास टहलकर वक्त गुजार रहे प्रयागराज के पुलिस कर्मियों ने कहा कि तीन दिन से एक जोड़ी कपड़ों में ही घूम रहे हैं। उन्हें नहीं पता था कि इतने दिन रुकना पड़ेगा, नहीं तो सारी तैयारी के साथ आते। बताते हैं कि वज्र वाहन पुलिस लाइन के पिछले हिस्से में खड़ा है और पुलिसवाले होटलों में ठहरे हुए हैं।

अशरफ के वकीलों ने प्रयागराज कोर्ट में अर्जी देकर पेशी पर आने के दौरान खतरा जताया था। कोर्ट ने इसके बाद एक अप्रैल को नया वारंट जारी कर दिया। इसमें अशरफ को प्रयागराज लाकर ही कोर्ट में पेश करने की बात कही गई है। इसमें पेशी का का दिन व समय निश्चित नहीं है। इसलिए किसी भी दिन टीम उसे ले जाकर पुलिस पेश कर सकती है। कोर्ट ने प्रयागराज पुलिस कमिश्नर को निर्देश दिए हैं कि अशरफ को लाते वक्त सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

करोड़ों की मालकिन हैं कंगना रनौत बिना किस-इंटिमेट सीन 35 फिल्में कर चुकी हूं इंग्लिश तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने रिटायरमेंट का किया ऐलान ‘विराट के खिलाफ रणनीति बनाएंगे… : बाबर आज़म कंगना रनौत का बड़ा ऐलान, चुनाव जीती तो बॉलीवुड छोड़ दूंगी