Hardoi : चार बीघा खेत के लिए पत्नी और साली को मारी गोली,साली की मौत

HARDOI-NEWS

हरदोई,संवाददाता : हरदोई जिले में निजामपुर हत्याकांड की मुख्य वजह चार बीघा खेत कहा जा रहा है। ग्रामीणों के अनुसार नसीरुद्दीन की शादी गांव की ही यासमीन बानो के साथ एक वर्ष पूर्व हुई थी। शादी के बाद से ही नसीरुद्दीन के इरादे नेक नहीं थे और वह ससुर मेहंदी खां की प्रॉपर्टी पर नजर लगाए हुए था।

नसीरुद्दीन चार बीघा जमीन ससुर से अपने नाम कराने का दबाव पत्नी यासमीन बानो पर बना रहा था। इस कारण दोनों के बीच रोजाना झगडे शुरू हो गये थे । लगभग आठ महीने से यास्मीन बानो अपने मायके में ही रह रही थी। चार माह पूर्व उसने तलाक के लिए कोर्ट में वाद भी दायर किया था। उसी से नाराज नसीरुद्दीन ने पूरी घटना को अंजाम दिया है।

नसीरुद्दीन दिल्ली में रहकर टेंपो चलाता था। ग्रामीणों के अनुसार नसीरुद्दीन तीन-चार दिनों से कट्टा लेकर गांव में घूम रहा था। उसे देखकर ऐसा लग रहा था कि कोई वह वारदात करने वाला है। इधर, एसपी राजेश द्विवेदी ने कहा कि जल्द ही इस घटना का खुलासा किया जायेगा , आरोपी को गिरफ्तार जेल भेजा जाएगा।

गोली से घायल पत्नी को पीटा

पुलिस की पूछताछ में लोगो ने बताया कि गोली लगने से घायल यासमीन को नसीरुद्दीन ने पीटा भी था। लोगों ने कहा कि नसीरुद्दीन बाग आया और यासमीन से गाली गलौज करने लगा। फिर यासमीन के गोली मार दी। साली सहर बानो ने विरोध किया, तो नसीरुद्दीन ने तमंचे से फायर कर दिया। फायर सहर बानो के सीने में लगी।

तड़प-तड़प कर हुई सहर बानो की मौत
घायल सहर बानो ने भागकर जान बचाने का प्रयास किया। तभी नसीरुद्दीन ने पीछे से दूसरी गोली चला दी, जो उसके बाएं हाथ की कलाई में लगी। गोली लगने के बाद मौके से 50 मीटर दूर गिर गई और तड़प-तड़प कर उनकी मृत्यु हो गई। उसके बाद नसीरुद्दीन ने अपनी पत्नी यास्मीन बानो को पकड़ कर पीटा।

वारदात देखने के बाद से डरे है बच्चे
निजामपुर में जीजा द्वारा गोली मारकर जिस समय साली की हत्या की गई थी। उस समय सहर बानो के तीनों बच्चे शाफिया (13), आशिफा (11) व बेटा शादान (8) भी मौके पर थे। तीनों ने मां को गोली लगने के बाद तड़प -तड़प कर मरते देखा है। घटना के बाद से तीनों बच्चे बेहद डरे सहमे हैं।

आरोपी युवक फरार, झोंके थे दो फायर
पाली थाना क्षेत्र के निजामपुर गांव में सोमवार दोपहर घरेलू विवाद में पति ने पत्नी पर तमंचे से फायर कर दिया। पत्नी को बचाने आई साली पर भी दो फायर किए। साली की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पत्नी को गंभीर हालत में लखनऊ रेफर किया है। एसपी और फोरेंसिक टीम ने मौके पर जांच की है। आरोपी फिलहाल फरार बताया जा रहा है।

बाग में आम तोड़ने के लिए गई थीं दोनों बहने

निजामपुर निवासी नसीरुद्दीन का निकाह गांव की ही यासमीन बेगम (32) के साथ हुआ था। आठ महीने से दोनों के बीच विवाद चल रहा है। यासमीन का मायका गांव में ही है। विवाद के बाद से यासमीन मायके में रह रही है। सोमवार दोपहर एक बजे के करीब यासमीन बड़ी बहन सहर बानो (35) के साथ गांव से 100 मीटर दूर स्थित बाग में आम तोड़ने के लिए गई थी।

पत्नी की कोख, तो साली के सीने पर लगी थी गोली
इसी दौरान नसरुद्दीन वहां पहुंच गया और घरेलू विवाद का उलाहना देते हुए तमंचे से यासमीन पर फायर कर दिया। कोख में गोली लगने से यासमीन वहीं गिर गई, तो सहर बानो उसे बचाने के लिए दौड़ी। इसी दौरान नसीरुद्दीन ने तमंचे से दो गोली सहर बानो को
भी गोली मार दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार