चीन ने ताइवान सीमा के पास तैनात किए विमान और युद्धपोत

taiwan-border

चीन,रायटर : चीन और ताइवान के बीच एक बार फिर से युद्ध वाली टकराव की स्थिति उत्पन्न हो गयी है। ऐसा इसलिए है , क्योंकि ताइवान सीमाओं के नज़दीक फिर से चीन के लड़ाकू जहाजों को उड़ते हुए देखा जा सकता हैं। चीन ने आज फिर से ताइवान के आसपास तीन दिन का सैन्य अभ्यास शुरू कर दिया है।

चीन ने ताइवानी राष्ट्रपति की अमेरिकी यात्रा के बाद से किया फैसला

पीपुल्स लिबरेशन सेना के ईस्टर्न थिएटर के कमांड ने घोषणा की है कि चीन यह केवल अभ्यास के तौर पर ही कर रहा है। जबकि , चीन का यह फैसला ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग-वेन की अमेरिका यात्रा से लौटने के एक दिन बाद किया है और इस फैसले को चीन के गुस्से के रूप में देखा जा रहा है। चीन ने सैन्य अभ्यास शुरू करने के साथ कहा कि यह ताइवान और उनके साथ मिली बाहरी ताकतों के खिलाफ “गंभीर चेतावनी” है।

चीन के सैन्य अभ्यास करने पर ताइवान के रक्षा मंत्रालय द्वारा कहा गया है कि वह शांतिपूर्ण और तर्कसंगत से इसका जवाब देगा। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि हम गंभीर रवैया अपनाते हुए बढ़ते संघर्ष को और अधिक नहीं बढ़ाना चाहते हैं। ताइवान के रक्षा मंत्रालय द्वारा शनिवार सुबह को यह भी कहा कि पिछले 24 घंटों में चीन ने ताइवान के वायु रक्षा क्षेत्र में चीनी विमानों को देखा गया है। ताइवान के चारों तरफ 13 चीनी विमानों और तीन युद्धपोतों का देखा गया है।

चीन सैन्य अभ्यास के द्वारा अपने लड़ाकू विमानों को ताइवान के जल क्षेत्रों के आसपास और ताइवान के उत्तर, दक्षिण और पूर्व में “योजना के मुताबिक ” अभ्यास करेगा। चीन इस अभ्यास के मार्फ़त एक बार फिर से ताइवान को अपनी सैन्य ताकत दिखाने के साथ और युद्ध की चेतावनी देना चाहता है।

ताइवान की राष्ट्रपति साई ने बुधवार को लॉस एंजेलिस में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के अध्यक्ष केविन मैक्कार्थी से मुलाकात किया था , जिस के कारण चीन भड़का हुआ है। जबकि , चीन ताइवान को अपना इलाका मानता है और वह किसी की दखलअंदाजी पसंद नहीं करना चाहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

खत्म हुआ हार्दिक पांड्या और नताशा स्टेनकोविच का रिश्ता? करोड़ों की मालकिन हैं कंगना रनौत बिना किस-इंटिमेट सीन 35 फिल्में कर चुकी हूं इंग्लिश तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने रिटायरमेंट का किया ऐलान ‘विराट के खिलाफ रणनीति बनाएंगे… : बाबर आज़म