शार्प शूटरों ने की अतीक और अशरफ की हत्या

atiq-ashraf

प्रयागराज,रिपब्लिक समाचार,संवाददाता : उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में उमेश पाल हत्याकांड के आरोपी माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की कॉल्विन हॉस्पिटल के बाहर एक के बाद एक गोली मारकर दोनों भाइयो को मौत की नींद सुला दिया।

कॉल्विन अस्पताल के बाहर हुई हत्या

प्रयागराज के कॉल्विन अस्पताल के बाहर माफिया अतीक अहमद और अशरफ की हत्या की साजिश बदमाशों ने पहले से ही तैयार कर लिया था । उन्हें पता था कि अतीक और अशरफ को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल लाया जाने वाला है, इसलिए वे मीडियाकर्मी के रूप में वहां खड़े थे, जबकि पुलिस को हत्या की साजिश रचे जाने की भनक भी नहीं लगी। हमलावरों ने अतीक व अशरफ की सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों को संभलने तक का मौका नहीं मिला और वारदात को इतनी तेजी से अंजाम दे डाला।

असल में गुड्डू मुस्लिम के बारे में… मीडियाकर्मियों से इतना बोलते ही अतीक के पीछे आए शूटर ने नजदीक से उसके सिर में रिवाल्वर से गोलिया मारकर अतीक की हत्या कर दिया । गोली की आवाज सुनते ही अतीक से आगे चल रहे अशरफ ने जब पीछे देखा तो अशरफ एकदम से डर गया । तभी दो और शूटर नजदीक जाकर अशरफ पर सामने से गोलियो की बौछार कर दिया गोलिया लगते ही दोनों भाइयो की मृत्यु हो गयी ।

अतीक अहमद के साथ हथकड़ी बंँधे होने की कारण से उसे बचने का कोई मौका नहीं मिला । इस पूरे घटनाक्रम के दौरान अतीक अहमद और अशरफ की सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मी खुद को बचाते देखे गए । शूटरों की हिम्मत देखकर वे कांप गए। इतना ही नहीं, उन तीनो शूटरो ने मिडिया और पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार जिस तरीके से अतीक और अशरफ की हत्या की गई , उसे साफ पता चलता है फिदायीन अंदाज में घटना को अंजाम देने आए शूटरों को अपने लक्ष्य और अंजाम के बारे में भलीभांति मालूम था। तीनों ने भागने का कोई भी प्रयास नहीं किया। इतना ही नहीं, उन तीनो शूटरो ने मिडिया और पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

हत्यारों ने किया सरेंडर

जैसे ही उनको अतीक और अशरफ के मृत्यु होने का आभास हुआ, उन्होंने सरेंडर-सरेंडर… जय श्रीराम.. जय श्रीराम कहते हुए अपने हाथ ऊपर कर लिए। पुलिस ने भी तीनों शूटरों को जवाबी फायरिंग कर मौके पर ढेर करने की कोशिश तक नहीं की गई । इस वारदात की आगे होने वाली जांच में अतीक और अशरफ की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों को इसका जवाब देना होगा।

प्रयागराज में माफिया अतीक अहमद व उसके भाई अशरफ की हत्या के बाद पहली प्रतिक्रिया प्रदेश सरकार के जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह की आई। उन्होंने ट्वीट किया कि पाप पुण्य का फल इसी जन्म में मिलता है।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अतीक अहमद को गोली मारे जाने के मामले में तल्ख टिप्पणी की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि उप्र में अपराध की पौ बारह हो गई है और अपराधियों में पुलिस का कोई भय नहीं है।

जब पुलिस के घेरे के बीच सरेआम गोली मारकर किसी की हत्या हो सकती है तो आम जनता की सुरक्षा का क्या। इससे जनता के बीच डर का माहौल बन रहा है, ऐसा लगता है कुछ लोग जानबूझकर ऐसा भय का माहौल बना रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार