ऑपरेशन कावेरी के तहत सूडान से नौ भारतीयों का एक और समूह पहुंचा मुंबई

operation-kaveri

मुंबई, एनएआई : सूडान में फंसे हुए 9 भारतीयो का एक समूह जेद्दा से मुंबई लौट आया है। संकटग्रस्त देश से लौटने के बाद लोगों के चहरे पर गजब की खुशी देखने को मिली। भारत लौटे एक प्रवासी सलीम ने कहा कि वे अपने रिश्तेदारों से मिलने गया था और करीब 20 दिनों तक सूडान में फंसा रहा। सलीम के मुताबिक कि जब मैंने वहां के भारतीय दूतावास से संपर्क किया तो उन्होंने बहुत जल्दी से मेरी सहायता कर दिया।

लोगों ने दूतावास का जताया आभार

सूडान में कार्य करने वाले एक दूसरे भारतीय प्रवासी ने कहा कि हम बहुत मुश्किल स्थिति में थे। हमने अपनी स्थिति के बारे में दूतावास को बताया और फिर वे हमें पोर्ट सूडान ले गए। मैं दूतावास का बहुत बहुत्त आभारी हूं। इसके पहले विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि लगभग 3800 नागरिकों को संकटग्रस्त सूडान से सफलतापूर्वक निकाल लिया गया है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा कि सूडान से 47 लोगों को लेकर आईएएफ का सी-130जे विमान जेद्दा से दिल्ली के लिए रवाना हो रहा है। ऑपरेशन कावेरी के अनुसार अभी तक सूडान से करीब 3800 लोगों को निकाल लिया गया है।

इस के पहले, गुरुवार को सूडान में फंसे 192 भारतीय अहमदाबाद में उतरे। उन्हें भारतीय वायुसेना के सी17 विमान से पोर्ट सूडान से अहमदाबाद लाया गया। बागची ने कहा कि उसी दिन चेन्नई और बेंगलुरु के लिए 2 और 18 ऑनबोर्ड उड़ानों के दो जत्थों में एन डजमेना से 20 लोगों को निकाल लिया गया।

सूडान में भारतीय दूतावास के मुताबिक ‘ऑपरेशन कावेरी’ के तहत संघर्षग्रस्त सूडान से कुल 3,584 भारतीयों को निकाल लिया गया है, जिसने गुरुवार को नौ दिनों का अभियान पूरा किया , जबकि कि संघर्षग्रस्त सूडान में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए भारत सरकार द्वारा अपने महत्वाकांक्षी बचाव मिशन “ऑपरेशन कावेरी” को शुरू किए हुए नौ दिन हो चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार