Himachal : हिमाचल में बर्फबारी से बढ़ी शीतलहर

HIMACHAL-NEWS

शिमला, संवाददाता : हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले के उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में मौसम ने फिर करवट बदल दिया है। जिले के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में शुक्रवार रात से शनिवार सुबह तक बर्फबारी दर्ज की गई है। इससे समूचा जिला कड़ाके की ठंड की चपेट में आ गया है। बर्फबारी से कई ग्रामीण रूटों पर बसों की आवाजाही ठप हो गई है। जिले के निचार में 10, कल्पा 4.3, सांगला 2.8 और पूह में 0.6 सेंटीमीटर बर्फबारी दर्ज की गई है।

फागू-कुफरी में भी शनिवार शाम को ताजा बर्फबारी हुई है। उधर, बीते दिनों हुई बर्फबारी से राज्य में 100 से अधिक सड़कें अभी भी ठप पड़ी हैं। राजधानी शिमला व आसपास भागों में आज धूप खिलने के साथ हल्के बादल छाए हुए हैं। शीतलहर के चलते ठिठुरन बढ़ गई है। अटल टनल और जलोड़ी दर्रा होकर बस सेवा के लिए अभी इंतजार करना होगा। अटल टनल के दोनों छोर से केलांग-मनाली व कुल्लू के लिए अभी सड़कें बहाल नहीं हुईं हैं। जलोड़ी दर्रा होकर 25 दिनों से बसें नहीं चल रहीं। दोनों हाईवे पर 11 बस रूट हैं।

बर्फ के फाहे गिरते देख सैलानी झूमे

हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल मनाली में शनिवार शाम को फिर से बर्फबारी का दौर शुरू हो गया। मनाली के मालरोड़ पर पर्यटकों ने बर्फ के फाहों का खूब आंनद लिया। आसमान से बर्फ के फाहे गिरते देख सैलानी खुशी में झूम उठे। बर्फबारी को देखते हुए सोलंगनला की ओर गए पर्यटक वाहनों को भी वापस मनाली भेजा जा रहा है।

1 मार्च तक कैसा रहेगा मौसम
मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार राज्य के कई भागों में 1 मार्च तक बारिश-बर्फबारी का सिलसिला जारी रहने की संभावना है। एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से 26, 27, 29 फरवरी और 1 मार्च को राज्य के मध्य व उच्च कई स्थानों पर बारिश-बर्फबारी के आसार हैं। इस दौरान मैदानी क्षेत्रों में बारिश की संभावना है। कुछ स्थानों पर अंधड़ चलने व बिजली चमकने का येलो अलर्ट भी जारी हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SC बोला- रामदेव और आचार्य बालकृष्ण अदालत में पेश हों पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान