ऊंची इमारतों के वजन के नीचे डूब रहा न्‍यूयॉर्क

newyork-city

नई दिल्ली,एनएआई : न्‍यूयॉर्क विश्व में अपने गगनचुंबी इमरतों के लिए जाना जाता है। लंबी और ऊंची इमारतें इस अमेरिकी शहर की पहचान बन गयी है। विगत हाल ही में आई एक नई रिपोर्ट ने काफी चौंकाने वाली खुलाशे किये है। रिपोर्ट में कहा गया है कि न्‍यूयॉर्क शहर धीरे-धीरे डूब रहा है और इसकी गगनचुंबी इमारतें नीचे को जा रही हैं।

न्‍यूयॉर्क में 10 लाख से अधिक इमारतों का वजन 1.7 ट्रिलियन पाउंड

नई रिपोर्ट में कहा गया है कि न्‍यूयॉर्क की ऊंची और लंबी इमारतें आसपास के पानी स्त्रोतों के पास धीरे धीरे धंसती जा रही हैं, इस प्रोसेस को अवतलन कहा जाता है। न्‍यूयॉर्क पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, न्‍यूयॉर्क में 10 लाख से अधिक इमारतों का वजन लगभग 1.7 ट्रिलियन पाउंड है। यह शोध रोड आइलैंड विश्वविद्यालय में अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण और भूवैज्ञानिकों द्वारा किया गया है।

शहर प्रति वर्ष 1-2 मिलीमीटर की दर से नीचे धंस रहा
शोधकर्ताओं ने पाया कि शहर प्रति वर्ष 1-2 मिलीमीटर की दर से नीचे धंस रहा है। विज्ञानियों ने सैटेलाइट से लिए गए तस्वीरों की तुलनात्मक अध्ययन के बाद इस नतीजे पर पहुंचे हैं। यह अध्ययन अर्थ फ्यूचर जर्नल में प्रकाशित किया है। शोधकर्ताओं ने आगे कहा कि लोअर मैनहट्टन जैसे कुछ क्षेत्र बहुत तेजी से धंस रहे हैं। जबकि, ब्रुकलिन और क्वींस दोनों च‍िंता के विषय बने हुए हैं।

न्‍यूयॉर्क को बचाने के ल‍िए नई रणनीति बनानी चाह‍िए : वैज्ञान‍िक

संयुक्त राज्य भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के प्रमुख शोधकर्ता और भूविज्ञानी टाम पार्सन्स ने कहा कि न्‍यूयॉर्क शहर हर साल बाढ़ के खतरे की चुनौतियों का सामना करता रहा है। अंटलांटिक तट पर पूर्वी अमेरिका का सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला शहर है। रिपोर्ट को लिखने वाले मुख्य वैज्ञानिक ने कहा कि निष्कर्ष बढ़ते बाढ़ के जोखिम और बढ़ते समुद्र के स्तर का मुकाबला करने के लिए नई रणनीतियों को विकसित करने के प्रयासों को प्रोत्साहित करना चाहिए। भविष्य में न्‍यूयॉर्क को कैसे बचाना है, उसपर नई रणनीति बनानी होगा।

वजन के कारण से धंसता जा रहा शहर
अध्ययन के बारे में बताते हुए साइंस अलर्ट ने कहा कि शोधकर्ताओं की टीम ने न्यूयॉर्क शहर में 10 लाख से अधिक इमारतों के संचयी द्रव्यमान की गणना की, जो कि 1.68 ट्रिलियन पाउंड के बराबर थी। शहर को 100-बाई-100-मीटर वर्ग के एक ग्रिड में विभाजित किया। गुरुत्वाकर्षण के खिंचाव और इमारतों के दबाव का अध्ययन किया गया। इतने बड़े वजन की वजह से न्यूयॉर्क शहर धंसता जा रहा है। जबकि, शोधकर्ताओं ने इमारतों पर ध्यान केंद्रित करते हुए सड़कों, फुटपाथों, पुलों, रेलवे और अन्य पक्के क्षेत्रों को छोड़ दिया। शोधकर्ताओं ने चेतावनी दिया है कि बढ़ते शहरीकरण, जिसमें भूजल की निकासी और प‍िंग के कारण भी ऐसा हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार