आईएसआईएस प्रमुख अबू हुसैन अल-कुरैशी ढेर

is-is

सीरिया, एएफपी : तुर्किये के राष्ट्रपति एर्दोगन के मुताबिक संदिग्ध आईएसआईएस प्रमुख अबू हुसैन अल-कुरैशी सीरिया में मार दिया गया। एर्दोगन ने कहा, “यह पहली बार है जब मैं यह कह रहा हूं। इस व्यक्ति को कल एमआईटी द्वारा चलाए गए एक अभियान में मार दिया गया था। राष्ट्रपति एर्दोगन ने आगे कहा कि तुर्किये बिना किसी भेदभाव के आतंकवादी संगठनों के खिलाफ अपना संघर्ष जारी रखेगा। अनादोलु एजेंसी के अनुसार, 2013 में, तुर्किये दाएश / आईएसआईएस को आतंकवादी संगठन घोषित करने वाले पहले देशों में से एक बन गया।

अब तक 300 से अधिक लोगो की मृत्यु हो गई

तब से देश में कई बार आतंकवादी समूह द्वारा हमला किया गया है, जिसमें कम से कम 10 आत्मघाती बम विस्फोटों, सात बम हमलों और चार सशस्त्र हमलों में 300 से अधिक लोगो की मृत्यु हो गई और सैकड़ों अन्य लोग घायल हो गये हैं। जवाब में, तुर्किये ने भविष्य के हमलों को रोकने के लिए देश और विदेशो में आतंकवाद विरोधी अभियान शुरू कर दिया गया। एक इंटरव्यू में, तुर्किये के राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि नस्लवाद, इस्लामोफोबिया और भेदभाव पश्चिम में “कैंसर कोशिकाओं की तरह” फैल रहा है: “पश्चिमी देशों ने अभी तक इस खतरे का सामना करने के प्रयासों का प्रदर्शन नहीं दिखाया है।”

अनादोलू एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, विदेशों में मुस्लिमों और मस्जिदों को निशाना बनाने वाले अभद्र भाषा और हमले भी कर रहे हैं। एर्दोगन ने कहा, “नस्लवादी समूहों द्वारा मस्जिदों के खिलाफ आगजनी और पवित्र कुरान को फाड़ने जैसे घिनौने कृत्य भी हो रहे हैं … हम अपने नागरिकों के जीवन और संपत्ति की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हर कदम उठाते रहे हैं।” हाल के महीनों में उत्तरी यूरोप और नॉर्डिक देशों में इस्लामोफोबिक हस्तियों या समूहों द्वारा कुरान को जलाने या ऐसा करने के प्रयासों के कई कृत्यों को देखा गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार