Mahoba : महोबा में मूसलाधार बारिश से भारी तबाही

MAHOBA-NEWS

महोबा,संवाददाता : महोबा जिले में मानसून की पहली बारिश ने जमकर तबाही मचा दिया । पांच घंटे हुई मूसलाधार बारिश से सड़कें और गलियां तालाब बन गए। सैकड़ों मकानों व दुकानों के अंदर पानी घुसने से लोगों को लाखों रूपये का नुकसान हुआ। भारी बारिश केचलते गौरहारी-विजयपुर मार्ग की सड़क व दो पुलिया बह गईं। जिससे म गांव वालो का संपर्क कट गया। जल निकासी की उचित व्यवस्था न होने से नाराज गांव वालो ने झांसी-मिर्जापुर हाईवे पर जाम लगा दिया। जाम में एक घंटे तक वाहन फंसे रहे।

झमाझम बारिश के चलते कई मार्ग बाधित

पुलिस ने लोगों को समझा बुझाकर जाम खुलवाया। बुधवार रात करीब डेढ़ बजे अचानक बदले मौसम के मिजाज से तेज हवाओं के साथ सुबह साढ़े छह बजे तक झमाझम बारिश होती रही। सड़कों पर दो से तीन फुट ऊंचा पानी भर गया। लवकुशनगर तिराहा,बजरंगवार्ड सुभाषनगर, काजीपुरा, जारीगंज समेत कई वार्ड टापू बन गए। झमाझम बारिश के चलते गौरहारी-विजयपुर मार्ग की सड़क बह गई। बुंदेलखंड विकास निधि से दो महीने पहले इस मार्ग का निर्माण कराया गया था।

रात में हुई बारिश से सड़क व दो पुलिया बह गई। ग्रामीण सोशल मीडिया में बही सड़क और पुलिया की फोटो अपलोड कर भ्रष्टाचार की खिल्ली उड़ाते रहे। सड़क बहने से छह गांवों का संपर्क कट गया। कुलपहाड़ संवाददाता के ,मुताबिक मौसम की पहली बारिश ने नगर पंचायत की पोल खोल दिया । झमाझम बारिश से गोविंदनगर, मुख्य बाजार,राजपूत कॉलोनी, गल्ला मंडी, टौरियापुरा, नजरबाग, पुरानी तहसील, गायत्री मंदिर के पास समेत सभी वार्डों में चार से पांच फीट ऊंचा पानी भर गया।

आक्रोशित गांव वालो ने हाईवे किया जाम

अधिशासी अधिशासी अधिकारी निर्दोष कुमार व नगर पंचायत अध्यक्ष वैभव अरजरिया कर्मचारियों के साथ जेसीबी मशीन से पानी की निकासी के लिए मशक्कत करते दिखे । राजपूत कॉलोनी में चंद्रप्रकाश सोनी, पीयूष मिश्रा,सुकेश सोनी, ताहिर सिंह समेत दर्जनों लोगों के घरों में पानी घुसने से गृहस्थी बर्बाद हो गई।
मुख्य बाजार में मोहन,संजय अग्रवाल, बाबू गुप्ता,देवेंद्र गुप्ता धीरेंद्र नामदेव, धर्मेंद्र सोनी, मुन्ना, लाक्षाकार, सलीम, रामसेवक अग्रवाल, रामनारायण सोनी, बल्ली साहू, संजय, आदि की दुकानों में पानी भरने से लाखों रूपये का नुकसान हुआ।

तहसील कुलपहाड़ के लाड़पुर गांव में जलभराव से आक्रोशित गांव वालो ने सुबह करीब नौ बजे हाईवे पर जाम लगा दिया, जिससे दोनों ओर दर्जनों वाहन फंस गए। सूचना पर कोतवाली प्रभारी विनोद कुमार सिंह ने पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच जाम खुलवाया। एक घंटे बाद आवागमन बहाल हो सका। बेलाताल संवाद के मुताबिक झमाझम बारिश से , पठानपुरा, ड्योढ़ीपुरा ,स्टेशन रोड, इमलीपुरा ,बाईपास, आदि मोहल्लों में बारिश का पानी घरों व दुकानों में घुसने से पूरे दिन लोग पानी निकालने में जुटे रहे।

बारिश के चलते कई कच्चे घर गिरे

जिले में हुई झमाझम बारिश ने गरीबों के सामने मुसीबत खड़ी कर दिया है। बस स्टैंड कुलपहाड़ निवासी बशीर निजामी का कच्चा मकान धराशायी हो गया। मकान में लगी आटा चक्की व स्पेलर भी मलबे में दब गए। इसी मोहल्ले के निवासी मातादीन के दो कच्चे मकान गिर गए । इसी तरह चरखारी क्षेत्र में बम्हौरी बेलदारन गांव निवासी मुन्ना समेत कई लोगों के मकान बारिश की भेंट चढ़ गए। पीड़ितों ने राजस्व विभाग को प्रकरण की सूचना दी है।

बुधवार रात से गुरुवार सुबह तक जिले में 12 घंटे में 172 एमएम बारिश दर्ज की गई। शहर में सुबह करीब डेढ़ बजे शुरू हुई मूसलाधार बारिश छह बजे तक होती रही। इसके बाद बूंदाबांदी का दौर चला। कुलपहाड़, श्रीनगर आदि स्थानों पर भी भारी बारिश हुई। सिंचाई विभाग के अनुसार अर्जुन बांध क्षेत्र में 120, चंद्रवल बांध क्षेत्र में 28, कबरई बांध क्षेत्र में 30, मझगवां बांध क्षेत्र में 15, उर्मिल बांध क्षेत्र में 45, लहचूरा बांध क्षेत्र में 35, क्योलारी में छह एमएम बारिश दर्ज की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार