भारतीय वायुसेना : पहले विदेशी अभ्यास में भेजेगी राफेल विमान

rafel-jet

नई दिल्ली,एनएआई : फ्रांस के मॉन्ट डे मार्सन सैन्य हवाई अड्डे पर लगभग तीन सप्ताह के बहुराष्ट्रीय हवाई अभ्यास के लिए भारत चार राफेल विमान , दो सी-17 विमान और दो आईएल-78 विमान युद्ध अभ्यास के लिए भेजेगा। आप को ज्ञात होगा कि भारतीय वायुसेना में शामिल किए गए राफेल विमानों के लिए यह पहला विदेशी अभ्यास होगा।

भारतीय वायुसेना के मुताबिक वायु सेना की एक टुकड़ी कल फ्रांस के लिए रवाना हो जाएगी और भारतीय वायु सैनिक फ्रांस के मॉन्ट डे मार्सन में वायुसेना बेस स्टेशन में होने वाले ओरिअन अभ्यास में भाग लेंगे। भारतीय वायुसेना ने अपने एक बयान में कहा, “इस अभ्यास कार्यक्रम का आयोजन 17 अप्रैल से पांच मई के मध्य किया जा रहा है। भारतीय वायुसेना अभ्यास के लिए अपनी टुकड़ी में दो सी-17 विमान और चार राफेल विमान , दो आईएल-78 विमान तथा 165 वायु सैनिक सम्मिलित किये गए हैं।’’

इस अभ्यास में भारत और फ्रांस के अलावा जर्मनी, यूनान, इटली, नीदरलैंड, ब्रिटेन, स्पेन और अमरीका की वायुसेनाये भी भाग ले रही हैं। बयान के मुताबिक , इस अभ्यास के समय होने वाली भागीदारी अन्य दूसरेदेशों की वायु सेनाओं से सर्वोत्तम कार्य प्रणालियों को आत्मसात करने तथा भारतीय वायुसेना की कार्यशैली तथा आवधारणा को और मजबूती प्रदान करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार