अब तक नगालैंड में कोई महिला नहीं बन पाईं विधायक

nagaland-election

कोहिमा,एनएआई : नगालैंड में एक नई विधानसभा का चुनाव करने के लिए 27 फरवरी को मतदान होगा। पुरे प्रदेश एवं देश के सभी लोगो की निगाहें चार महिला उम्मीदवारों पर है। इस उत्तर पूर्वी राज्य में विधायक के रूप में चुनी जाने वाली पहली महिला बनकर इतिहास रचने जा रही हैं।

सामाजिक पर्यवेक्षकों ने कहा कि लगभग सभी प्रमुख सामाजिक मुद्दों में नेतृत्व की भूमिका में महिलाओं वाले राज्य के लिए कभी भी महिला विधायक कभी नहीं निर्वाचित हुईं है । कुल 13 लाख 17 हजार 632 मतदाताओं में से इस चुनाव में महिला मतदाताओं की संख्या 6 लाख 56 हजार 143 है यानई 49.8 प्रतिशत है।

कुल 183 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं, जिनमें से चार महिलाएं हैं। इनमें दीमापुर-III सीट से एनडीपीपी की हेखनी जाखलू, तेनिंग सीट से कांग्रेस की रोजी थॉम्पसन, पश्चिमी अंगामी सीट से एनडीपीपी की सलहौतुओनुओ और अतोइजू सीट से भाजपा की काहुली सेमा हैं।

राजनीतिक विश्लेषक सुशांत तालुकदार ने कहा, “यह एक विरोधाभास है कि उत्तर पूर्व के अधिकांश राज्यों में महिलाएं सामाजिक मुद्दों में नेतृत्व की भूमिका में हैं, लेकिन राजनीतिक क्षेत्र में वे अपनी जगह नहीं बना पाईं।” उन्होंने कहा, “नगालैंड में भी, वे सभी सामाजिक मुद्दों में सबसे आगे हैं, जैसे एएफएसपीए विरोधी आंदोलन का नेतृत्व करना, उग्रवादी समूहों के साथ शांति की बात करना आदि, लेकिन उनके पास पर्याप्त राजनीतिक प्रतिनिधित्व नहीं है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान राहुल गांधी की इस बात से नाराज थे नीतीश कुमार