अब्बास अंसारी का नया ठिकाना कासगंज जेल

abbas-ansari

लखनऊ,रिपब्लिक समाचार,शैलेश कुमार पाल : चित्रकूट जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी के विधायक बेटे अब्बास अंसारी को कासगंज जेल स्थानान्तरित किए जाने का आदेश जारी हो गया है। जिसके बाद अब्बास को सुबह 5.30 बजे कासगंज जेल के लिए रवाना कर दिया गया। पहले मंगलवार रात को ही अब्बास को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में कासगंज जेल पहुंचाये जाने की तैयारी की गई थी।

अब्बास को कड़ी निगरानी में रखे जाने के निर्देश

जेल सूत्रों के अनुसार अब्बास अंसारी को बुधवार सुबह 5.30 बजे चित्रकूट जेल से कासगंज जेल ले जाया गया। इस दौरान कड़ी सुरक्षा थी । कासगंज जेल में अब्बास को कड़ी निगरानी में रखे जाने के निर्देश दे दिए गए हैं। जिसे लेकर कासगंज जिला जेल में सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। चित्रकूट जेल की घटना के बाद कारागार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मवीर प्रजापति ने मंगलवार को वीडियो काफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जेल अधीक्षकों, जेलर, डिप्टी जेलर व डीआइजी स्तर के
मंत्री ने चित्रकूट जिला जेल में बंद विधायक अब्बास अंसारी को तत्काल से जिला कारागार कासगंज में स्थानान्तरित किए जाने का आदेश दिया है।

अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

बैठक में कहा कि इस घटना में संलिप्त जेल प्रशासन के लोगों के विरुद्ध जांच रिपोर्ट आने के बाद बेहद सख्त कार्रवाई होगी। मंत्री ने जेल अधीक्षकों से कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी जेलों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराए जाने का निर्देश दिए। उन्होंने भविष्य में किसी भी जेल में इस प्रकार की घटनाये फिर से घटित न हो। जेल अधीक्षकों को किसी भी प्रकार की समस्या हो , दबाव या धमकी मिले तो उसकी सूचना तत्काल कारागार मुख्यालय को दी जाए।
किसी प्रकार की घटना होने के बाद उनकी इस प्रकार की दलीलों का संज्ञान नहीं लिया जायेगा और सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जायेगी। उन्हों ने कहा कि चित्रकूट जेल जैसी घटनाओं से जेल विभाग में किये जा रहे सकारात्मक व अच्छे कार्य पीछे हो जाते हैं।

मंत्री ने टाप टेन अपराधियों की सूची की तलब

कारागार राज्यमंत्री सुरेश राही ने भी कई कड़े निर्देश दिए। कहा कि जेलों में तकनीकी संसाधनों के बावजूद इस प्रकार की घटनाये का होना आश्चर्यजनक व अक्षम्य है। बैठक में प्रमुख सचिव कारागार राजेश प्रताप सिंह, डीजी जेल आनन्द कुमार व अन्य वरिष्ठ अधिकारी समीक्षा बैठक में मौजूद रहे।

मंत्री ने सभी जेल अधीक्षकों को 20 फरवरी तक उनके जेलों में बंद टाप टेन अपराधियों की सूची कारागार मुख्यालय को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की व्यवस्था को और मजबूत करने का निर्देश भी दिया। मुख्यालय स्तर पर निगरानी तंत्र को भी और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास किए जाने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

करोड़ों की मालकिन हैं कंगना रनौत बिना किस-इंटिमेट सीन 35 फिल्में कर चुकी हूं इंग्लिश तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने रिटायरमेंट का किया ऐलान ‘विराट के खिलाफ रणनीति बनाएंगे… : बाबर आज़म कंगना रनौत का बड़ा ऐलान, चुनाव जीती तो बॉलीवुड छोड़ दूंगी