चलती कार में दुपट्टे से गला कसकर पति ने की थी पत्नी की निर्मम हत्या

JAUNPUR-NEWS

जौनपुर, आर.एन.दुबे : स्थानीय थाना क्षेत्र खुटहन के पिलकिच्छा स्थित गोमती नदी में विगत 5 फरवरी को मछुआरों के जाल में फसी विवाहिता के शव मामले में पुलिस ने खुलासा करते हुए अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया।

ज्ञात हो कि पिछले 5 फरवरी को मछुआरों द्वारा प्रतिदिन की भांति सुबह जाल से मछलियों को निकलने नदी में जाया गया जहा उनके जाल में फसी लड़की का शव देख वो चिल्लाने लगे देखते ही देखते सैकड़ों की संख्या में भीड़ जमा हो गई मौके से पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया था। लड़की के पिता सुरेश निवासी कौड़िया थाना कोतवाली शाहगंज द्वारा प्रार्थना पत्र देकर आरोप लगाया गया था कि वह रोजी रोटी के चक्कर में मुंबई रहते हैं और घर पर उनकी बड़ी पुत्री सोनी और छोटी पुत्री अंजली रहती हैं। विवाहिता सोनी आरसीएम में कार्यरत थी।

उसका विवाह तीन वर्ष पहले कौड़ियां के रहने वाले राहुल चौरसिया से हुआ था। किंतु विवाह के 2 वर्ष बाद ही आपस में विवाद हुआ और विवाद इतना बढ़ गया की दोनो एक दूसरे से दूरियां बना लिए। आरोप है कि कुछ दिनों से सोनी के पति का आना जाना शुरू हो गया था।4 फरवरी 2024 को सोनी अपनी छोटी बहन को बता कर गई कि वह कंपनी के काम से जा रही है। देर रात तक उससे फोन द्वारा संपर्क करने का प्रयास किया जाता रहा किंतु नही हो पाया। और अगले ही दिन उसका शव गोमती नदी में पाया गया।

फोन डिटेल के आधार पर जांच शुरू की गई

थानाध्यक्ष खुटहन ने पूरे प्रकरण में बताया कि घटना के बाद प्रार्थना पत्र के आरोप को आधार बनाकर विवाहिता के फोन डिटेल के आधार पर जांच शुरू की गई। जिसके तहत राहुल चौरसिया को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की गई। पहले तो वह गुमराह किया किंतु कड़ाई से पूछे जाने पर वह सब कुछ साफ साफ बता दिया, कि वह सोनी से अलग होने के बाद दूसरी शादी कर लिया था और सोनी उसको लगातार ब्लैक मेल करती थी जिससे वह ऊब चुका था।

फिर उसने एक योजना के तहत लड़की को घर से बुलाकर खुटहन ले आया। जहाँ कार लेकर उसके दो दोस्त अंकित निवासी ग्राम कटार थाना फूलपुर जिला आजमगढ़ और विष्णु प्रसाद नई आबादी शाहगंज खड़े थे। उसको कार में बिठाया और देर रात्रि तक उसको इधर – उधार घुमाते रहे।आधी रात के बाद उसकी दुपट्टे से गला घोटकर हत्या कर शव को गोमती में फेक दिया। एसओ अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि आरोपियों को बिशुनपुर चौराहे से गिरफ्तार कर लिया गया है। जिनके पास से घटना में उपयोग की गई स्विफ्ट वीडीआई कार जिसका नंबर up 32 cd 8599 और तीनों के पास से 1800 रु. नगदी बरामद की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SC बोला- रामदेव और आचार्य बालकृष्ण अदालत में पेश हों पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच पाकिस्तान में गठबंधन सरकार तय Paytm पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, क्या अब UPI भी हो जाएगी बंद ? लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान